नेहरु-गाँधी परिवार की काली करतूतों के कारनामों की लिस्ट ज्यादा लम्बी है या उनके अवैध संबंधों की ?

नेहरु-गाँधी परिवार की काली करतूतों के कारनामों की लिस्ट ज्यादा लम्बी है या उनके अवैध संबंधों की ?

नेहरु और गाँधी परिवार के चरित्र की बात की जाएं तो आप यक़ीनन हो जाएंगे कंफ्यूज

जवाहर लाल, इंदिरा गाँधी, सोनिया गाँधी, राहुल गाँधी इन नामों को किसी परिचय की जरुरत नहीं है l इन सभी के बारे में हम सभी भली-भाति जानते हैं लेकिन क्या हम इन्हें सही मायनों में जानते है क्या हमें इनकी सच्चाई पता है l आप सोच भी नहीं सकते ये परिवार जो खुद को रॉयल फैमिली कहता है किस हद तक गिर सकता है l जिन्हें अपने ही सरनेम में कंफ्यूजन है उनके बारे में क्या कहा जाए l नेहरु और गाँधी परिवार के चरित्र की बात की जाएं तो आप यक़ीनन कंफ्यूज हो जाएंगे, अब भला ऐसा हो भी क्यों ना इस परिवार में कोई भी ऐसा सदस्य नहीं था जो पाक साफ़ हो या कहा जा सके कि उसका चरित्र अच्छा हो l ये कहना कतई ग़लत नहीं होगा कि इन्हें चरित्र हीनता विरासत में मिली है l बचपन में हम नेहरु को भारत का चाचा कह कर बुलाया करते थे अगर हमें इनकी काली करतूतों का जरा भी अंदाज़ा होता तो शायद हम कभी इनका नाम भी नहीं लेते l चलिए आज इनकी काली करतूतों से पर्दा हटा ही दिया जाएं l

नेहरु-गाँधी परिवार

 

अब जवाहरलाल नेहरु की बात की जाए तो उनकी शादी कमला कॉल से हुई l जवाहर के चरित्र से हम सब कहा अनजान हैं, और भला जिसे विरासत में ही चरित्रहीनता मिली हो उससे अपेक्षा भी क्या की जाए l एम ओ मथाई ने अपनी किताब REMINISCENES OF THE NEHRU AGE में जवाहर के अवैध संबंधों का ज़िक्र किया है l जवाहर का सारदा माता से अफेयर था दोनों ने एक बेटे को भी जन्म दिया l जवाहर को एडविना से इतना प्यार था, कि वो भारत तक छोड़ने के लिए तैयार थे l इनकी अवैध संबंधो की लिस्ट इतनी लम्बी है, कि सबका जिक्र करना भी संभव नहीं हैं l ये चरित्र हीनता जवाहरलाल नेहरु को उनके पूजनीय पिता जी मोती लाल से मिली हैं l जो सिर्फ जवाहरलाल के नाम मात्र पिता थे lआपको बता दे मोतीलाल की पहली पत्नी का देहांत काफी कम उम्र में हो गया था, इसके बाद मोतीलाल ने सवरूप रानी से शादी की जिससे उन्हें दो बेटी विजयलक्ष्मी और कृष्णा को जन्म दिया l स्वरुप रानी के मोतीलाल के बॉस( मुबारक अली ) के साथ अवैध सम्बन्ध थे, कहा जाता है कि इनके नाजायज संबंध का फल जवाहर लाल नेहरु थे l वहीँ मोतीलाल के भी दो मुस्लिम बेटे थे, शेख अब्दुल्लाह और सईद हुसैन से अक्सर मोतीलाल मिला करते थे और दो मुस्लिम बेटों को जन्म दिया l

नेहरु-गाँधी परिवार

Prev1 of 3Next