बॉलीवुड की ये आठ फ़िल्में इतनी बोल्ड थीं, कि कलाकारों को करना पड़ा बॉडी डबल्स का इस्तेमाल

बॉलीवुड की ये आठ फ़िल्में इतनी बोल्ड थीं, कि कलाकारों को करना पड़ा बॉडी डबल्स का इस्तेमाल

बॉलीवुड फिल्मों में कलाकारों पर फिल्माए गए अंतरंग दृश्य, भले ही दर्शकों की तालियां बटोरते हों, लेकिन उन कलाकारों के लिए इन दृश्यों की शूटिंग आसान नहीं होती. वो भी ऐसे सीन्स के दौरान काफी असहज महसूस करते हैं. यही वजह है कि कलाकारों को कई बार बॉडी डबल्स का इस्तेमाल करना पड़ता है. बॉडी डबल्स बिल्कुल इन कलाकारों के जैसे ही दिखते हैं, इसलिए दर्शकों को ये अहसास ही नहीं हो पाता कि स्क्रीन पर दिख रहे सीन में कलाकार खुद नहीं परफॉर्म कर रहा है. आइए आपको ऐसी ही कुछ फिल्मों के बारे में बताते हैं, जिनके हॉट सीन्स देखकर आप काफी खुश होते होंगे ,लेकिन असल में उन सीन्स में कलाकारों के बॉडी डबल्स का इस्तेमाल हुआ है.

01. हिस्स (मल्लिका शेरावत)

इस फिल्म में बॉडी डबल के इस्तेमाल को मल्लिका शेरावत ने हमेशा नकार दिया है, लेकिन उनके भाई और इस फिल्म के को-प्रोड्यूसर ने इस बात को स्वीकार किया था कि फिल्म के कई सीन्स में बॉडी डबल को यूज़ किया था.

hisss

02. एक छोटी सी लव स्टोरी (मनीषा कोइराला)

इस फिल्म में एक कम उम्र के लड़के का अपने से ज़्यादा उम्र की औरत के प्रति आकर्षण दिखाया गया है. इस फिल्म का ट्रेलर आने के बाद से ही लोगों में फिल्म को लेकर काफी एक्साइटमेंट था. मनीषा ने बाद में कहा कि इस फिल्म में बॉडी डबल का इस्तेमाल हुआ है, जबकि आपको फिल्म देखने के बाद ऐसा बिलकुल भी नहीं लगेगा.

मनीषा कोइराला

03. सात खून माफ़ (प्रियंका चोपड़ा)

इस फिल्म के एक दृश्य में प्रियंका को टॉपलेस होना था और अपनी बैक ओपन करनी थी. दर्शकों को ये लगा कि वे प्रियंका की न्यूड बैक को फिल्म में देख रहे हैं, जबकि ये काम उनकी बॉडी डबल ने किया था.

प्रियंका चोपड़ा

04. एक पहेली लीला (सनी लियोनी)

इस फिल्म के कई दृश्य ऐसे थे, जिन्हें लेकर दर्शकों के बीच काफी उत्सुकता थी. बात अगर सनी की करें, तो उन्हें बॉडी डबल की ज़रुरत नहीं पड़ी, लेकिन उनके सह-कलाकार मोहित को इसकी ज़रुरत पड़ी. फिल्म के कई इंटीमेट सीन्स को सनी के पति डेनियल पर फिल्माया गया है.

खैर, जो भी हो, इन कलाकारों ने भले ही बॉडी डबल्स का इस्तेमाल किया है, लेकिन दर्शकों का मनोरंजन तो किया ही. आख़िरकार, कलाकार भी तो इंसान ही होते हैं. किसी सीन को करने में असहज होने पर अगर उन्हें बॉडी डबल की ज़रुरत पड़ती है, तो इसमें गलत भी क्या है?

s leoan

05. त्रिशग्नि (पल्लवी जोशी)

ये पहली इंडियन फिल्म थी, जिसमें अंतरंग दृश्यों को काफी खुलकर दिखाया गया था. सेंसर बोर्ड ने पहली बार इस तरह के दृश्यों को सिनेमा हॉल तक पहुंचने दिया था. लेकिन प्यार और रोमांस के जिन दृश्यों पर दर्शकों ने खूब तालियां बजाई थीं, उनमें पल्लवी की बॉडी डबल ने अभिनय किया था.

 त्रिशग्नि

06. लन्दन, पेरिस, न्यूयॉर्क (अली जफ़र)

इस फिल्म में अली ने काफी अच्छा अभिनय किया था, लेकिन फिल्म में उन्होंने किसिंग सीन को शूट करने से मना कर दिया था. ज़ाहिर है इस काम को उनके बॉडी डबल ने पूरा किया.

लन्दन, पेरिस, न्यूयॉर्क

07. फायर (नंदिता दास)

फिल्म ‘फायर’ ने भारतीय लोगों को होमोसेक्सुअलिटी से परिचित करवाया. इस फिल्म में शबाना आज़मी और नंदिता के बीच सेक्सुअल अट्रैक्शन दिखाया गया है. फिल्म में दिखाई गई नंदिता की ओपन बैक दरअसल उनकी नहीं है. इसमें बॉडी डबल का इस्तेमाल हुआ है.

फायर

08. बैंडिट क्वीन (सीमा बिस्वास)

सीमा को इस फिल्म में फूलन देवी के किरदार को बेहतरीन तरीके से निभाने के लिए नेशनल अवार्ड मिला था. फिल्म में बलात्कार के बाद का न्यूड सीन दिखाने के लिए बॉडी डबल का प्रयोग किया गया. हालांकि इतनी खूबसूरती से इस सीन को दिखाया गया है कि कोई भी ये नहीं समझ सकता कि वो बॉडी डबल है.

बैंडिट क्वीन